भटकती आत्मा Bhatakti Aatma Real Ghost Story

भटकती आत्मा | Bhatakti Aatma Real Ghost Story

Posted by

भटकती आत्मा Ghost Story

हेलो दोस्तों में आपके सामने फिर से हाजिर हुआ हु और आपको नई कहानी सुनाने जा रहा हु तो दोस्तों में उम्मीद कर रहा हु के आपने मेरी सारी कहानी पढ़ी होगी और आप सब को मेरी सभी कहानी अच्छी ही लगी होगी । तो दोस्तों आधुनिक समय में भूत प्रेत को अन्धविश्वाश के प्रतिक देखा जाता है परन्तु वो अन्धविश्वाश नहीं है वो एक सत्य घटना पर आधारित होता है और वो घटना ऐसी होती है की जिनको वो महसूस होती है उसे पता चलता है के वो अन्धविश्वाश है या नहीं ? तो दोस्तों में आपका ज्यादा वक्त बर्बाद ना करते हुए में अपनी कहानी पर आता हु ।

तो दोस्तों जो में कहानी सुनाने जा रहा हु वो आज से ५ – ६ साल के पहले की है जब में १० वि कक्षा में था और मेरी एग्जाम भी ख़तम हो चुकी थी तो में अब फ्री था तो में और मेरा एक दोस्त हमारे घर के सामने एक बड़ा सा मेदान है तो हम सब वहाँ क्रिकेट या फुटबॉल जैसे गेम खेलते है और वहाँ मेदान में एक बड़ी सी ६ माल की एक ईमारत है वो ईमारत पहले एक मालिक थी वहाँ उसकी बेटी ने कूद कर अपनी जान दे दी थी और उसकी आत्मा भटक रही थी तो उस मालिक ने आगे काम करना शुरू किया तो वो आत्मा सब को परेशान कर रही थी परन्तु वो आत्मा किसी को दिखाई नहीं देती थी फिर भी लोगो को परेशान करती थी और कहा जाता था के ६ मंजिल पे उसकी आत्मा का वाश होता है और वहाँ कोई नहीं जाता है एक दिन एक मजूर ने वहाँ जाने की कोसिस की तो उस मजूर को धक्का मार कर गिरा दिया था फिर वहाँ आज तक कोई नहीं गया है

और वो मालिक ने उस बड़ी सी ईमारत को बेच दिया था और नए मालिक ने उसे फिर से काम करवाना शुरू किया था । एक दिन अचानक हम सब क्रिकेट खेल रहे थे तो मेरी बैटिंग चल रही थी तो मेने सिक्सर लगायी तो वो बॉल ६ मंजिल पे जा चुकी थी हम सब तो डर गये थे लेकिन सब फ्रेंड्स बोल रहे थे के जिसने मारा वो लेने जायेंगा में तो बहुत डर गया था लेकिन मेरा एक फ्रेंड्स बोला के चल में तेरे साथ आता हु फिर हम दो दोस्त बॉल लेने के लिए चले गये हम जब पहली मंजिल पे गये तब मुझे कुछ अजीबसा होने लगा था मेरे आस पास कोई गुजर रहा हो ऐसा महसूस हो रहा था परन्तु मेने हिम्मंत करके आगे जाने का तय किया फिर हम आगे बढे तो हमे दो बिल्लिया देखि और वो हमको गुर गुर के देख रही थी हम तो डर गये थे

भटकती आत्मा Bhatakti Aatma Real Ghost Story

फिर मेरे फ्रेंड्स ने उसे लकड़ी दिखाई तो वो बिल्लिया भाग गयी फिर हम जब जब आगे बढ़ रहे थे तो हमें ऐसे कितना भी अजीबसा परन्तु हमने हार नहीं मानी और आगे बढ़ने लगे और हम ६ मंजिल पे पहुंच गये हमें वहाँ जाकर देखा तो हमारे होश उड़ गये हमने देखा के हमारी बॉल हवा में उड़ रही थी हम तो वो देखकर बहुत ही डर गये थे फिर हम जब वो बॉल लेने गये तो वो और ज्यादा हवा चली गयी और हवा में गुमने लगी थी हम तो वहाँ काँप रहे थे फिर तेज तेज से हवाएं आने लगी और किसकी रोने की आवाजे आने लगी और हमारे बाल भी उड़ ने लगे थे

फिर हमने राम का नाम बोल कर वहाँ से भाग ने का तय किया और हम वहाँ से भाग रहे थे तब किसीने मेरे फ्रेंड्स का एक पैर पकड़ कर उसकी तरफ खिंच रहा था मेने उसके हाथ पकड़ कर मेरी तरफ खिंचा लेकिन कोई फरक नहीं पड़ता था में भी उस तरफ ही खिंच रहा था फिर भी मेने हार नहीं मानी और राम का नाम जोर जोर से बोलने लगा तभी मेरे फ्रेंड्स के पैर छोड़ दिया और हम वहाँ से भाग कर निचे आ गये

और हमारे सारे फ्रेंड्स को हमारी कहानी बताई तो सब डर गये थे और डर के मरे सब फ्रेंड्स अपने अपने घर चले गये में भी अपने घर चला गया था और घर जाकर फ्रेश होकर खाना खाया और जब में रात को सो रहा था तो मुझे वो बात ही आ रही थी मुझे वो बॉल ही दिखाई देती थी तो दोस्तों ये थी मेरे साथ घटित घटना जो आपको पसंद आयी होतो उसे लाइक या कमेंट करना मत भूलना धन्यवाद ।

Key tag:

  • Real Ghost Stories
  • Bhoot Pret ki Sachhi Kahaniya
  • Ghost Stories
  • Real Ghost Chudel
  • भटकती आत्मा
  • real bhoot
  • Bhatakti Aatma Real Ghost Story
  • Real Ghost
  • hindi real ghost stories

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *